मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डबरा क्षेत्र को दी बड़ी-बड़ी सौगातें 335 करोड़ रूपए लागत की बारकरी-जिगनिया उच्चदाब पाइप सिंचाई नहर परियोजना का किया भूमिपूजन, सेंमरी में सिंध नदी पर पुल, पिछोर में महाविद्यालय एवं तहसील तथा लधेरा बांध निर्माण की घोषणा, सरकार के खजाने में गरीबों व किसानों के लिये धन की कमी नहीं - मुख्यमंत्री श्री चौहान जनता के मन में कई सावल घोषणा चुनाव आने पर ही करते हैं कई गांवों में बिजलीनही जा रही हैं डीपी फुंकी है बिजली विभाग के अधिकारी मांगते हैं रुपया कई जगह गांव पंचायतों में विकास कार्य नहीं, भाजपा के कार्यकर्ताओं जाटव समाज का लोगों कहना है कि कांग्रेस का ही विधायक बनेगा इमरती देवी तो सुनती नहीं है सिमरिया टेकरी बौद्ध विहार पर दो लाख रुपए की बाउंड्री वाल की राशि अभी तक नहीं दी इनका तो सिर्फ दिखावा है।
September 25, 2020 • M.S.Bishotiya

 

पिछोर/ग्वालियर - मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने  ग्वालियर जिले की डबरा विधानसभा क्षेत्र को बड़ी-बड़ी सौगातें दीं। उन्होंने सेंमरी गाँव के समीप सिंध नदी पर बहुप्रतीक्षित पुल निर्माण की घोषणा की। साथ ही लधेरा बांध निर्माण, पिछोर में अगले सत्र से महाविद्यालय एवं पिछोर को तहसील बनाने की घोषणा भी उन्होंने की। मुख्यमंत्री श्री चौहान माँ रतनगढ़ बहुउद्देश्यीय सिंचाई परियोजना के अंतर्गत 335 करोड़ की लागत से बनने जा रही बारकरी-जिगनिया उच्चदाब की पाइप सिंचाई नहर के निर्माण का भूमिपूजन करने पहुँचे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के खजाने में गरीब, किसान एवं अन्य जरूरतमंदों के लिये धन की कमी नहीं है। सरकार विकास कार्यों के लिये भी धन की कमी नहीं आने देगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री भारत सिंह कुशवाह के साथ इस नहर परियोजना का भूमिपूजन किया। माँ रतनगढ़ बहुउद्देश्यीय सिंचाई परियोजना के अतंर्गत बारकरी-जिगनिया उच्चदाब पाइप सिंचाई नहर (देवगढ़, बिलौआ प्रेशराइज़्ड पाइप नहर) के निर्माण पर लगभग 335 करोड़ रुपये की लागत आएगी। परियोजना के तहत 2.35 मीटर व्यास की एक हज़ार मीटर लंबी मुख्य राइजिंग पाइप लाइन डाली जाएगी। साथ ही खेतों तक पानी पहुँचाने के लिए एक हज़ार 728 किलोमीटर लंबी डिस्ट्रीव्यूटरी पाइप लाइनें भी बिछाईं जाएंगी। यह सिंचाई परियोजना किसानों के लिए जीवन रेखा साबित होगी। इसके निर्माण से ग्वालियर जिले के डबरा विधानसभा क्षेत्र के 51 गांवों में निवासरत लगभग 2100 किसानों के करीबन 23 हज़ार 600 हैक्टेयर रकबे की सिंचाई होगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के जीवन में कोई कठिनाई नहीं आने देगी। सरकार ने किसानों के उत्थान के लिये तमाम कल्याणकारी योजनायें बनाई हैं। साथ ही गरीबों व किसानों को सरकार अभियान बतौर आर्थिक मदद मुहैया करा रही है। इस कड़ी में हाल ही में सरकार ने 20 लाख से अधिक किसानों के खातों में 4 लाख 600 करोड़ की फसल बीमा की राशि पहुँचाई है। इसके अलावा किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर कृषि ऋण मुहैया कराने के लिये सहकारी बैंकों को 8 हजार करोड़ रूपए की राशि सरकार ने अपने खजाने से दी है। श्री चौहान ने कहा सरकार हर जरूरतमंद परिवार को एक रूपए प्रतिकिलो के हिसाब से राशन मुहैया करा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यह भी कहा कि सरकार ने प्रदेश की जनता से बिजली का बोझ कम किया है। सरकार ने पिछले बिजली के बिल स्थगित कर दिए हैं। अगले महीने केवल एक माह का बिजली बिल उपभोक्ताओं को भरना होगा। राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बहुप्रतीक्षित नहर का भूमिपूजन कर डबरा व पिछोर क्षेत्र के किसानों को खुशियों का नया पैगाम दिया है। उन्होंने कहा लगभग 831 करोड़ रूपए लागत की रतनगढ़ सिंचाई परियोजना से डबरा क्षेत्र के साथ-साथ भिण्ड जिले के मेहगाँव व गोहद तहसील के किसानों के खेत भी सिंचित होंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान से लधेरा बांध के निर्माण की माँग भी की, जिसे श्री चौहान ने सहर्ष स्वीकार कर लिया। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्री इमरती देवी ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सही मायने में किसानों के मसीहा बन गए हैं। उन्होंने आर्थिक दिक्कतों के बाबजूद किसानों के कल्याण के लिये धन की कमी नहीं आने दी है। श्रीमती इमरती देवी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डबरा क्षेत्र को पिछले तीन महीनों के दौरान ही करोड़ों रूपए के विकास कार्य मंजूर किए हैं। इस क्षेत्र में हैंडपम्प खनन के लिये अलग से पाँच मशीनें मुहैया कराई हैं। श्रीमती इमरती देवी ने डबरा क्षेत्र के विकास के लिये अन्य मांगे भी रखीं। कार्यक्रम में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र तथा उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री भारत सिंह कुशवाह सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम के अंत में श्री कौशल शर्मा ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में पूर्व विधायक श्री जवाहर सिंह रावत तथा सर्वश्री वीरेन्द्र सिंह राणा, रामेश्वर तिवारी पूर्व जनपद पंचायत अध्यक्ष,मोहन सिंह राठौर, वीरेन्द्र जैन, डा सीके शर्मा रामवीर सिंह घुराया , भारत साहू पोषण रावत, हिमांशु परसेडिया, जीतूराजा आईटीसेल के पदाधिकारी अन्य जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे। साथ ही मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री बी एम शर्मा, संभाग आयुक्त श्री एम बी ओझा, पुलिस महानिरीक्षक श्री अविनाश शर्मा, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी, मुख्य अभियंता जल संसाधन श्री एन पी कोरी व अपर कलेक्टर श्री टी एन सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे। रतन गढ़ सिंचाई परियोजना से ग्वालियर, दतिया एवं भिंड जिले की 58,184 हैक्टेयर जमीन सिंचित होगी माँ रतनगढ़ बहुउद्देश्यीय सिंचाई परियोजना से ग्वालियर दतिया व भिण्ड जिले के 185 ग्रामों के किसानो को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। लगभग 831 करोड़ रूपए लागत की इस परियोजना से 58 हजार 184 हैक्टेयर क्षेत्र में भूमिगत पाइप लाइन से उच्च दबाव के साथ पानी पहुँचाया जायेगा और स्प्रिंकलर पद्धति से सिंचाई होगी।