मध्य प्रदेश में अब गुटखा और ड्रग माफिया के खिलाफ शुरू होगा एक्शन , कलेक्टर अनुराग चौधरी ग्वालियर अतिशीघ्र बनेगे ,ड्रग माफियाओं के लिये सिंघम। भोपाल से आदेश आने का कर रहे इंतजार।
December 26, 2019 • M.S.Bishotiya9825734503

भोपाल। प्रदेश में मिलावटखोर और भूमाफिया के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गुटखा और ड्रग माफिया के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। विभागीय अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रदेश में गुटखा पर पूरी तरह से रोक है तो फिर पान मसाले के रूप में क्यों बिक रहा है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग गुटखा एवं ड्रग माफिया के खिलाफ अभियान चलाने की तैयारी कर रहा है। जाजााकारी  अनुसार मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि नशे की वजह से युवा पीड़ी बर्बाद हो रही है। साथ ही प्रदेश में दवा माफिया भी लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहा है। खाद्य पदार्थों में मिलावट करने  वालों के खिलाफ प्रदेश में पिछले छह महीने से कार्रवाई चल रही है। चूंकि प्रदेश में ड्रग माफिया भी सक्रिय है। मुख्यमंत्री की मंशा है कि इस माफिया को पूरी तरह से खत्म किया जाए। जल्द ही प्रशासन की टीम ड्रग माफिया के  खिलाफ अभियान शुरू करेगा। साथ ही गांजा, गुटखा के अवैध कारोबार पर भी प्रशासन का शिकंजा कसेगा। 

भू-माफिया से भी बड़ा है ड्रग माफिया 
प्रदेश में पिछले 15 साल में हर क्षेत्र में माफिया सक्रिय है। भू-माफिया के  खिलाफ कार्रवाई जारी है। जिसमें प्रशासन ने बड़े-बड़े लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है। जो पिछली सरकार के कार्यकाल में पनपे थे। अब सरकार ड्रग माफिया के खिलाफ भी अभियान छेड़ेगी। सरकार के संज्ञान में यह जानकारी है कि प्रदेश के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप, पीथमपुर, बानमौर, जबलपुर क्षेत्र में कुछ कंपनियों दवाओं का कारोबार कर  रही हैं। जल्द ही प्रशासन की टीम दवा फैक्ट्री और दवा कारोबारों के ठिकानों पर छापामार कार्रवाई करेगी।