प्रांतीय शिक्षक संघ के नेतृत्व में शिक्षकों ने सौंपा  माननीय स्कूल शिक्षा मंत्री महोदय एवं श्रीमान आयुक्त लोक शिक्षण को ज्ञापन
October 5, 2019 • M.S.Bishotiya

 शिक्षा मंत्री जिला कार्यालय पहुचे जिलाध्याक्ष मुकेश मोर्य के नेतृत्व मे शिक्षा मत्री को शिक्षा विभाग मे शिक्षकों को आ रही कमी को लेकर मंत्री को अबगत।

 गवालियर। 4 अक्टूबर 2019 । प्रांतीय शिक्षक संघ के नेतृत्व में अध्यापकों एवं शिक्षकों (राज्य शैक्षणिक संवर्ग) की प्रमुख मांगों एवं समस्याओं को लेकर प्रदेश स्कूल शिक्षा मंत्री श्री प्रभु राम चौधरी जी को वी आई पी सर्किट हाउस  एवं आयुक्त महोदया लोक शिक्षण जयश्री कियावत जी को होटल तानसेन (गांधी रोड )पर सौंपा गया ।ज्ञापन के बिंदु इस प्रकार हैं। 
(1) अध्यापक संवर्ग से राज्य स्कूल शिक्षा सेवा में नियुक्त किए गए अध्यापकों को जुलाई 2018 से देय सातवें वेतनमान के भुगतान हेतु शीघ्र आदेश जारी करवाया जाए ।
(2) राज्य शिक्षा सेवा( शैक्षणिक संवर्ग) 2018 में नियुक्ति से वंचित एवं होल्ड पर रखे गये  एवं वर्तमान में पात्र अध्यापकों को शीघ्र नियुक्ति प्रदान की जाए।
(3)  वर्ष 2006 या इसके बाद नियुक्त व 12 वर्ष पूर्ण कर चुके अध्यापक संवर्ग की क्रमोन्नति प्रक्रिया स्पष्ट निर्देशों के अभाव में पिछले 1 वर्ष से लंबित है, क्रमोन्नत वेतन का लाभ दिए जाने हेतु स्पष्ट निर्देश शीघ्र जारी कराए जाएं ।
(4)वचन पत्र में शामिल किए गए वेतन विसंगति को 3 माह में दूर किए जाने के वचन का पालन कराया जाए ताकि प्रदेश के 2 लाख  37 हजार  अध्यापकों को राहत मिल सके ।
(5 )वर्ष 2013 से शिक्षक एवं कर्मचारी बिना पदोन्नति के ही रिटायर हो रहे हैं इसलिए पदोन्नति हेतु नवीन प्रावधान कर  पदोन्नति  का लाभ प्रदान किया जाए।
(6) बजट उपलब्धता की स्थिति में वेतन, भत्ते एवं एरियर आदि के भुगतान हेतु समय सीमा निर्धारित किए जाने हेतु निर्देश जारी किए जाएं ताकि शिक्षकों को अनावश्यक रूप से कार्यालयों के चक्कर  न लगाने पड़े क्योंकि इससे शैक्षिक गुणवत्ता पर भी विपरीत असर पड़ता है।
(7) माता पिता एवं परिवार से वर्षों से दूर एवं स्थानांतरण प्रक्रिया में चयनित किए गए मॉडल एवं उत्कृष्ट विद्यालयों के शिक्षकों को स्थानांतरित संस्था हेतु शीघ्र रिलीव  किया जाए। उपरोक्त सभी मांगों पर शिक्षा मंत्री महोदय से सकारात्मक चर्चा हुई ,उन्होंने शीघ्र निराकरण कराये जाने  का आश्वासन दिया है। इसके साथ ही श्रीमान प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग रश्मि अरुण शमी मैडम  एवं श्रीमान आयुक्त महोदया लोक शिक्षण भोपाल जयश्री कियावत मैडम से भी उपरोक्त समस्त बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा हुई। चर्चा के दौरान मांगों के निराकरण किए जाने की बात रखी, प्रमुख सचिव महोदया ने  सातवें वेतनमान की कार्यवाही दिसंबर तक पूर्ण होने की बात कही साथ ही अन्य मांगों का शीघ्र निराकरण किए जाने हेतु आश्वस्त किया। मैडम ने एक बात पर विशेष जोर दिया कि शैक्षिक गुणवत्ता हेतु कॉपी का चैक होना  बहुत आवश्यक है, परंतु कुछ  शिक्षक ऐसा नहीं कर रहे हैं, हमने मैडम को बताया कि अधिकांश शिक्षकों द्वारा अच्छा कार्य किया जा रहा है फिर भी कुछ कमियों को दूर करने हेतु हम संगठन के माध्यम से भी और बेहतर प्रयास करेंगे। इसके साथ ही संघ प्रदेश के सभी शिक्षक साथियों का आव्हान  करता है कि हम शैक्षणिक गुणवत्ता में प्रदेश को अव्वल लाने  में अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करें। ज्ञापन के दौरान प्रमुख रूप से जिला अध्यक्ष वेदप्रकाश राजावत नीतू तोमर जिला अध्यक्ष महिला मोर्चा जिला संयोजक तारा चंद माथुर, जिला संगठन मंत्री राम बिहारी तिवारी, धन प्रकाश शर्मा( डीपी शर्मा )सोनू शर्मा (डबरा) रुचि सचान ,किरण श्रीवास्तव, कल्पना राठौर, वीनू दुबे ,नंदकिशोर शर्मा, देवेंद्र यादव, देवदत्त कुशवाह,विश्वनाथ शर्मा, विजय मिश्रा ,भारत शाक्य,विनोद दोहरे आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।