पीके दुबे महा निर्देशक सीमा सुरक्षा बल को सेवानेतृत्व होने पर भावपूर्ण विदाई दी
September 30, 2019 • M.S.Bishotiya

जो देश के लिये किया वह भुला नहीं सकता----दुवे

पंचमहलकेसरीअखबार
डबरा /टेकनपुर।  पवन कुमार दुबे महा निरीक्षक संयुक्त निदेशक अकादमी ने सीमा सुरक्षा बल 1982 मैं आईआईटी दिल्ली से एमटेक की उपाधि प्राप्त कर ने के उपरांत सीमा सुरक्षा बल में सहायक कमांडेंट तकनीकी के पद पर मार्च 1984 में ज्वाइन किया ।सीमा सुरक्षा बल में ज्वाइन किए जाने के उपरांत पवन कुमार दुबे एल ओसी जम्मू कश्मीर नॉर्थ ईस्ट पंजाब के उग्रवाद ग्रसित इलाकों में बीएसएफ के कई संस्थानों में कार्यरत रहे श्री दुबे ने वर्ष 2001 में 163 बटालियन सीमा सुरक्षा बल की कमाड संभाली जो कि उस समय एल ओ सी रजौरी जम्मू एंड कश्मीर में तैनात थी ।श्री दुबे द्वारा उच्च नेतृत्व क्षमताओं के मध्य नजर विटालियम को ऑल राउंड बेस्ट बटालियन वर्ष 2002 की जनरल चौधरी ट्राफी में नवाजा गया। राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड एन एसजी में प्रतिनियुक्ति पर वर्ष 2003से जनवरी 2008 तक सेवा प्रदान की उसके नेतृत्व में 11 एसआर जीमे विभिन्नआतंकीवादी ऑपरेशन ओं में सफलतापूर्वक भाग लिया अकादमी सीमा सुरक्षा बल टेकनपुर में ज्वाइन किए जाने के पूर्व श्री दुबे भाटिया हेड कांस्टेबल में तैनात रहे जिसमें उन्होंने सीमा पर अपराध पर अंकुश लगाने के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जनवरी 2018 को आयोजित डीजी आईजी सम्मेलन के दौरान अकादमी टेकनपुर में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और अन्य गणमान्य मंत्रियों की यात्रा के दौरान विभिन्न कार्यों और उनके समन्वय निगरानी में उनके द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई इस उपरांत टेकनपुर अकादमी के वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें भावपूर्ण विदाई दी।